नींबू की खेती (Lemon Farming)| Top 3 Nimbu ki Variety

Nimbu ki Variety:- Lemon is one of the most popular fruits in the world. India is one of the largest producers of lemons, accounting for 16 percent of the world’s total lemon production. Every year, 3.17 lakh hectares of land are used for lemon cultivation in India.

There are many different varieties of lemons grown in India. Some of the most popular varieties include Eureka, Lisbon, and Femminello St. Teresa lemons. Each of these varieties has its own unique flavor and aroma.

Lemon cultivation in India dates back to ancient times. Today, India produces 37.17 lakh tons of lemons every year. The demand for lemons is ever-growing, due to the many health benefits of this citrus fruit.
Lemons are a rich source of Vitamin C and are known to boost immunity. They are also effective in treating respiratory problems and digestive issues. The antioxidants present in lemons help to protect the body against various diseases.

Best Tractor in India in 45-50 HP
Top 10 Cattle Breeds in the World
Top 10 Pesticides Companies in India (Updated-List)

Nimbu ki variety (Variety of Lemon)

PDKV Bahar

PDKV Bahar

आगे बात करते हैं PDKV बहार वैरायटी की। यह वैरायटी सन 2014 में रिलीज हुई थी। इस वैरायटी के पौधे की हाइट 4 मीटर तक होती है। इस पौधे के फ्रूट वेट की बात करे तोह इसका average weight 58.24 gram है। इस पौधे की बागवानी से आप एक हेक्टेयर में से 35 टन तक पैदावार ले सकते है। इस पौधे की कमर्शियल लाइफ 25 साल तक की है।

PDKV Bahar (Nimbu ki variety)

  • Released in 2014.
  • Fruit: Seed less, Thorn less,
  • Fruit weight: (58.24 g)
  • Size: big,
  • yield : 30-35 t/ha, peel
  • thickness: 1.62mm,
  • Juice: 53 %
  • Acidity: 6.18%,
  • Ascorbic Acid: 31.47%

Sai Sharbati Limbu

शरबती नींबू

तो सबसे पहले बात करते हे साईं शरबती नींबू की। इस वैरायटी को बागवानी विभाग, महात्मा फुले कृषि विद्यापीठ, राहुरी ने वर्ष 1994 में रिलीज़ किया। ये वराइटी महाराष्ट्र की है। इस पौधे की कमर्शियल लाइफ 15 से 20 साल है। इस प्रजाति में फ़ल गुच्छो में न होकर अलग अलग होता है।

यह प्रजाति बाजार में बहुत अधिक पसंद की जाती है। इसके फ्रूट की बात करें तो आप एक hectare से 46.9 tonne सालाना ले सकते है और एक नींबू के वजन की बात करे तो उसका वजन है 49.87 ग्राम। इसके नींबू के अंदर पाए जाने वाले बीज की बात करे तो on an average इसमें 6.16 बीज पाए जाते है।

इसके पौधों का फैलाव अन्य प्रजातियों की तुलना में अधिक होता है और यही कारण है कि इसमें फल बहुत अधिक मात्रा में आता है। यह पौधा केवल चार वर्ष का है और आप देखिये इसमें कितनी मात्रा में फल आया हुआ है। अपने अच्छे उत्पादन,फलों की गुणवत्ता और बाजार में अच्छा भाव मिलने के कारण यह प्रजाति नींबू की बागवानी करने वाले कृषकों के बीच बहुत लोकप्रिय है। इसके फलों का मध्यम आकार भी इसे किसानों के बीच अधिक लोकप्रिय बनाता है।

इस किस्म को असम जैसे पहाड़ी इलाकों में बड़ी मात्रा में उगाया जाता है। इस किस्म के पौधे सबसे ज्यादा फल देने के लिए जाने जाते है। जिनका उत्पादन अन्य किस्मों से दुगना होता है। यह पौधा आपको तीन साल बाद फल देना शुरू करता है।

Sai Sharbati Limbu (Nimbu ki variety)

  • Release year: 1994
  • Name of Institute/ University: Mahatma Phule Krishi Vidyapeeth, Rahuri, Dist. Ahmednagar.
  • Soil type: Medium black, water drained & fertile
  • Climate: Tropical, Temp. range between 10-40 degree Celsius.
  • Sowing Time / Planting period: Perenial
  • Seed Rate (Per acre): 111 seedlings (6 x 6 m spacing)
  • Crop duration: Perenial crop
  • Productivity (kg/tree) Yield: 46.90 t/ha/year
  • Characters / features: Yield – 46.90 t/ha/year, Fruit weight – 49.87 g, Juice percent – 54.51%, Rind thickness – 1.52 mm, Summer cropping – 24.47 %, Seeds/fruit – 6.16, Oval smooth fruits with thin rind & uniform size, Tolerant to canker and tristeza, TSS 22.00 %, Pleasant aroma, Suitable for export and table purpose
  • Remark: Recommended for cultivation in Maharashtra

बालाजी नींबू

Balaji Nimbu

आगे बात करते हैं बालाजी नींबू की। इस वैरायटी से हम साल में दो बार फसल ले सकते हैं। इस पौधे की मैक्सिमम हाइट 8 मीटर तक हो सकती है। इसमें 2 साल बाद फल आना शुरू हो जाता है। इस पौधे के लिए 15 से 35 डिग्री का तापमान चाहिए होता है।

इस पौधे की प्रोडक्शन की बात करें तो हम एक पौधे से 45 से 50 किलो फल एक साल में ले सकते हैं। इस पौधे की कमर्शियल लाइफ 20 साल तक की है। और बात करें एक हेक्टेयर में इस बागवानी से प्रोडक्शन की तो हम इस वैरायटी से 24 मेट्रिक टन फसल ले सकते हैं।

बालाजी नींबू (Nimbu ki variety)

  • TEMPERATURE – Between 15-35 Degree Celsius.
  • MAXIMUM HEIGHT – It can reach upto 8 meter (if planted in ground)
  • BLOOMING TIME – Flowering 2 times in a year(spring & rainy)
  • Per Plant Average Production: 40-45 Kg/Plant
  • Production Per hectare: 24 Metric Tonnes
  • FRUITING TIME – It starts fruiting after 1.5-2 yrs after planting. Major fruiting month are (July/September/November/January)
  • Fertilizer – Organic Fertilizer once in 3 month.

Conclusion

Lemon cultivation requires a warm climate and well-drained soil. The trees are usually grown from seedlings or cuttings. Lemons are typically harvested from December to April.

If you are thinking of starting a lemon farm, then you should consider the different varieties of lemons that are suited to your climate and soil type. With proper care and management, you can easily grow healthy and productive lemon trees.

Leave a Comment